सुख दुःख, प्यार-इंतज़ार, आशा-निराशा से भरा हुआ यह ज़िन्दगी का सफर यूँ ही चलता है । जीवन के इन्ही भावों को कविता की पंक्तियों में व्यक्त करने की यह छोटी सी कोशिश है ।

किताब के बारे में:

इस पुस्तक में आपको वह सारी कवितायेँ मिलेंगी जो न तो आपके दिल को छू जाएँगी पर लुभा जाएँगी । कवियों ने इसमें प्यार से लेकर इंतज़ार, जुदाई, इकरार, प्रेरणा, हास्य, और विविध प्रकार की कवितायेँ पेश की हैं जो बहोत ही मनभावक हैं ।

लिखावट और वर्णन:

कवियों की लेखावट बहोत ही अच्छी है और उन्होंने हर कविता को बहोत ही साफ़, सरल और अच्छे ढंग से पेश किया है ।

पुस्तक आवरण एवं शीर्षक:

पुस्तक शीर्षक किताब के पन्नो में छापे गए अक्षरों से मेल खाता है परन्तु पुस्तक आवरण कुछ और अच्छा हो सकता था ।

पेशेवर:

  • गज़ब की कवितायेँ
  • उचित भाषा
  • दिल को छू जाने वाले शब्दों का चयन

विपक्ष:

कुछ बुरा नहीं मिला मुझे इसमें

मेरा फैसला:

इस किताब में बहोत सी ऐसी कविताये है जो आपको बेहद पसंद आएँगी । मेरी निजी पसंदीदा हैं तुम अनमोल हो, याद, म्हणत और दुआएं, ट्रैन में पेन, मजदुर की व्यथा । तो, अगर आप एक ऐसी पुस्तक ढूंढ रहे हैं जिस में अलग अलग तरीके की कवितायेँ हो तोह यह किताब आपके लिए है । पढ़िए और मज़े कीजिये ।

रेटिंग्स: 4/5

 

In Conversation with Manish, Neetish, and Chhavi

 

 

Advertisements