यह किताब आपको सिखाएगी-

चिंता मुक्त रहना

लोग आपको पसंद करने लगें

जीवन के उतार चाडाव से पार पाना

आत्मविश्वास जगाना

आज की रफ़्तार भरी ज़िन्दगी में संतुलित रहना

अपनी विचारधारा को सही दिशा देके भरपूर,

संतोषजनक एवं सार्थक जीवन जीना

भौतिक लक्ष्यों की प्राप्ति

किताब के बारे में:

इस भाग दौड़ भरी ज़िन्दगी में तनाव तो जैसे हमारे दिन का एक हिस्सा बन गया है. चाहे हम जितना भी चाहें खुद को इससे दूर नहीं कर पाते. किन्तु इस पुस्तक ने लेखक ने बहोत ही बखूबी ढंग से इससे जूझने का तरीका बताया है. लेखक ने इस में बहोत साडी चीज़ों का वर्णन किया है, जैसे की:

  • खुद को पहचानना
  • मैडिटेशन
  • क्रोध से बचना
  • मोटिवेशन

और भी बहोत कुछ. तो, ये किताब हमें सही मायनो में भोत कुछ सिखाती है

लिखावट और वर्णन:

लेखक ने बहोत ही सही तरीके से सरे विषयों को शब्दों में बंधा है. उनका एक एक शब्द पाठक तो सोचने में मजबूर कर देता है और उन पाठों पर अमल करने की प्रेरणा देता है

पुस्तक आवरण एवं शीर्षक:

पुस्तक शीर्षक किताब के पन्नो में लिखे शब्दों से बिलकुल मेल खता है और लोगों को आकर्षित करने वाला भी है क्युकी आजकल हर कोई तनाव भागना चाहता है. किन्तु पुस्तक आवरण थोड़ा और अच्छा और आकर्षित हो सकता था

पेशेवर:

  • सही भाषा का प्रयोग
  • लाभदायक पाठ
  • पाठकों के मैं को छू लेने वाला विवरण

मेरा फैसला:

जैसा की मैंने कहा की इस तनाव भरी ज़िन्दगी से बचना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन सा होता जा रहा है. तो जो लोग जूझ रहे हैं तनाव से, उनके लिए ये पुस्तक भोत मायने रखेगी. यही नहीं, लेकिन हमारी नयी पीढ़ी को भी ये पढ़नी चाहिए और इससे कुछ सीखना चाहिए.

रेटिंग्स: 3/5

बलबीर सिंह जी से थोड़ी सी बातें

Advertisements